मुखपृष्ठ » CEO & MD Profile

एच.पी.एस. आहूजा, एक अनुभवी अपतटीय अभियंता हैं, जिन्होंने अपना कैरियर ओएनजीसी से प्रारंभ किया। उनके पास तेल उद्योग के विभिन्न पहलुओं में तीन दशक से अधिक का प्रचुर अनुभव और बम्बई हाई तेल तथा गैस फील्डों में कुआं परीक्षण, स्टीमुलेशन तथा कुआं पूर्णता में व्यापक विशेषज्ञता मौजूद है।

 वे ओएनजीसी के व्यापार विकास समूह में कार्य करने के दौरान केर्न एनर्जी के साथ हुए खनिज तेल अनुबंध हेतु विचार-विमर्श और राजस्थान में रिफाइनरी हेतु स्थल की पहचान के कार्य में भी शामिल रहे थे।

श्री एच.पी.एस. आहूजा ने समग्र भारत में समूचे संगठन में सैप की ईआरपी परियोजना के कार्यान्वयन के संचालन में महत्वपूर्ण भूमिका अदा की थी, जोकि एपीएसी क्षेत्र में सैप द्वारा सबसे बड़ा कार्यान्वयन था।

एच.पी.एस. आहूजा इस परियोजना को समयबद्ध तरीके से कार्यान्वित करने वाले दल के संस्थापक सदस्य भी थे। एच.पी.एस. आहूजा वर्ष 2008 में इंडियन स्ट्रेटेजिक पेट्रोलियम रिज़र्वस लिमिटेड (आईएसपीआरएल) में प्रतिनियुक्ति पर हैं। इससे पहले, आईएसपीआरएल के उप सीईओ के रूप में श्री आहूजा भूमिगत लैंडरहित चट्टान केवर्नों में खनिज तेल के भंडारण के अंतग्र्रस्त होने वाले तीन क्षेत्रों नामतः विशाखापट्टनम, मंगलौर तथा पादुर में भारत सरकार के चरण-1 सामरिक कार्यक्रम के कार्यान्वयन में शामिल रहे हैं। राष्ट्र हेतु सामरिक भंडारणों के रूप में अभियांत्रिकी के इन उत्कृष्ट नमूनों का निर्माण तेल उद्योग में एक अनूठी विशेषताओं वाला क्षेत्र है।

वे चरण-2 कार्यक्रम हेतु डीपीआर को तैयार करने में शामिल रहे हैं जिसमें दो नई भूमिगत भण्डारण प्रौद्योगिकियां यथा साॅल्यूशन माइन्ड साल्ट लीच्ड केवर्न और भूमि पर कंक्रीट टैंक शामिल हैं।

श्री एच.पी.एस. आहूजा ने 02.06.2017 से आईएसपीआरएल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं प्रबंध निदेशक के रूप में कार्यभार ग्रहण किया है।

श्री आहूजा एक उत्साही पाठक और फोटोग्राफी, संगीत तथा ड्राइविंग का शौक रखते हैं। शैक्षणिक तौर पर वे बम्बई विश्वविद्यालय से मेकैनिकल इंजीनियर और बम्बई विश्वविद्यालय से ही प्रबंधन अध्ययन में डिप्लोमाधारक भी हैं।